शुक्रवार, 11 फ़रवरी 2022

कविता : "अपने मंजिल को पाने के लिए "

"अपने मंजिल को पाने के लिए "

शाम सूरज को ढलना सिखाती है | 

शमा परवाने को जलना सिखाती है ,

गिरने वालों को होती है तकलीफ | 

पर ठोकर ही इंसान को ,

आगे का रास्ता दिखाती है |  

हर तकलीफ से जूझती है ,

अपने मंजिल को पाने के लिए | 

हर गलतियों को माफ करती है,

कवि : राहुल कुमार , कक्षा : 8th 

अपना घर 

3 टिप्‍पणियां:

Anuradha chauhan ने कहा…

बहुत सुंदर।

Okkokkplooll ने कहा…

sugarka.com

eilenabacik ने कहा…

Casino Bonus Codes - JTG Hub
Welcome 성남 출장샵 to JamBase Casino. We are your trusted online 성남 출장안마 casino for real cash 여주 출장샵 rewards and bonuses that reward new 태백 출장안마 players with bonuses for the first deposit up to $500. 이천 출장샵