मंगलवार, 27 फ़रवरी 2018

कविता : सत्य विचार

" सत्य विचार " 

सत्य सदा मन में विचार, 
जिंदगी में जरूरी है हार | 
कहते हैं हम से वे यार, 
जीवन में रखो विचार | 
पथ पर अपने डटे चलो,
मुसीबतों से हंसकर लड़ो | 
चमको ऐसा की हो उजाला,
 ढह जाए सारा संसार| 
कहते हैं हम से वे यार | |    

नाम : देवराज कुमार , कक्षा : 7th , अपनाघर 

कवि परिचय :  यह हैं देवराज ,  यह बहुत ही रोचक भरी और प्रेरणा दायक कवितायेँ लिखते हैं जिसके द्वारा यह बताना चाहते हैं की एक बच्चा भी इतनी अच्छी कविता लिख सकता हैं | पढाई के साथ अन्य गतिविधियों में भी भागीदारी करते हैं | 

1 टिप्पणी:

Meena Sharma ने कहा…

प्रेरणादायक, आत्मविश्वास दर्शाती कविता !