मंगलवार, 19 मई 2009

सम्पादकीय, ११ मई, २००९

सम्पादकीय
प्यारे दोस्तों,
हमारा बाल सजग अच्छे से चल रहा है। बाल सजग में लिखे गए कवितायें और कहानियाँ अपने ब्लॉग बाल सजग पर लगातार प्रकाशित हो रही है। ४ मई को हिंदुस्तान दैनिक अख़बार ने भी अपने ब्लॉग की चर्चा अपने अख़बार में करके हमारा हौसला अफजाई किया है। हम सभी को इस बात की खुशी है कि हमारी मेहनत अब धीरे-धीरे सफल हो रही है। ब्लॉग में लिखे गए हमारी कवितायें, कहानियाँ को पढ़ कर लोगों द्वारा दी गई टिप्पणियाँ हमें लगातार और लिखने के लिए उत्साहित करती है। साथियों अभी लोकसभा का चुनाव ख़त्म हुआ है, देखना है कि कौन सी पार्टी या निर्दलीय नेता चुनकर लोकसभा में जाते है, और देश तथा लोगों कि भलाई के लिए क्या काम करते है। साथियों हमारी गर्मी कि छुट्टिया चल रही है, इन छुट्टियों के दौरान हम कुछ नया लिखें और अपने बाल सजग को और अच्छा और सुंदर बनाने कि कोशिश करें। हम अपनी कल्पनाओं को और ऊँचा ले जायें ताकि सुंदर औए मज़ेदार रचना हो सके।
धन्यवाद् फ़िर मिलते है....
अशोक कुमार, कक्षा ६
११ मई , २००९
संपादक, बाल सजग
अपना घर ,बी० /१३५-८, नानाकारी, प्रधान गेट
आई० आई० टी०, कानपुर-१६
फोन: ०५१२-2270589

2 टिप्‍पणियां:

काजल कुमार Kajal Kumar ने कहा…

अशोक कुमार जी, अच्छा लगा जानकार कि ब्लॉग्गिंग की दुनिया रचनाशीलता को बढ़ावा देती है.

vikas tripathi ने कहा…

bahut achhee bhai achha likh lete ho pryas ke liye bhadai