मंगलवार, 28 जुलाई 2009

कविता: बारिस का मौसम आया

बारिस का मौसम आया

बरसात का है ये मौसम आया,
हरियाली से धरती को है सुंदर बनाया...
बरसात हुई तो पक गई जामुन,
खाने में लोगों को बड़ा मजा आया...
बरसात में हरी भरी घास से,
क्यारियों को लोगों ने खूब सजाया...
रंग बिरंगे सुंदर फूलों ने मिलकर,
इस संसार को है ऐसा महकाया...
आज हुई है जमकर खूब बरसात ,
सब लोगों ने मिलकर खूब नहाया...
बरसात का है मौसम आया,
धरती को है सुंदर बनाया...

धर्मेन्द्र कुमार, कक्षा ७, अपना घर

3 टिप्‍पणियां:

Nirmla Kapila ने कहा…

बहुत सुन्दर बाल रचना बधाई

Udan Tashtari ने कहा…

अच्छी कविता.

अर्चना तिवारी ने कहा…

वाह !! शानदार कविता