मंगलवार, 7 जुलाई 2009

कहानी: पॉँच साहसी दोस्त

पॉँच साहसी दोस्त....
बहुँत समय पहले की बात है एक घना जंगल था उसी जंगल के पास एक गाँव था, गाँव के लोगों का मानना था कि इस जंगल में कई भूत, जंगली जानवर और बड़े - बड़े सांप रहते है, पर उस जंगल में ऐसा कुछ नही था बहुँत ही सुंदर और प्यारा जंगल था मगर गाँव के जितने बड़े लोग थे वह अपने बच्चों से कहते थे कि उस जंगल में मत जाना वर्ना कोई जंगली जानवर तुम्हे मार कर खा जाएगा या फ़िर तुम्हें भूत पकड़ लेगा सभी गाँव के बच्चे उस जंगल में जाने से डरते थे उसी गाँव में एक बच्चों कि टोली थी, उन पांचो बच्चों में आपस में बहुत ही अच्छी दोस्ती थी वे थोड़े शैतानी जरुर करते थे मगर निडर और साहसी थे एक दिन उन्होंने ने आपस में सलाह कि चलो उस जंगल में जाकर देखा जाय कि क्या है वंहा पर, हो सकता है ये बड़े लोग ऐसे ही झूठ बोल रहे हो फ़िर पांचो दोस्त गाँव में बिना किसी को बताये उस जंगल कि तरफ चल दिए जंगल में चलते - चलते वो बहुत दूर निकल आए मगर अभी तक उन्हें कंही भी कोई भूत, सांप ये जंगली जानवर नजर नही आया, रस्ते में उन्हें मोर, खरगोश, हिरन, तोते, जंगली कबूतर और ढेर सारे रंग बिरंगी चिड़िया दिखी आगे चलने पर उन लोगो ने देखा कि पेड़ों के बीच एक बहुत ही सुंदर महल बना है , और उस महल के आस-पास ढेर सारे बच्चे खेल रहे थे, पांचो दोस्त उन्ही बच्चों के साथ खेलने लगे महल के पास वाले बगीचे में ढेर सारे फल के पेड़ लगे थे, सभी ने पेड़ से तोड़ कर ढेर सारे फल खाया और झूला भी झूला अब शाम हो चली थी बातचीत में उन बच्चों ने बताया कि ये हम लोगो का स्कूल हैऔर हम लोग यंहा रहकर अपनी पढ़ाई कर रहे है हमारे परिवार के लोग इसी जंगल में रहते है सभी बच्चों के साथ इनकी दोस्ती हो गई पांचो दोस्तों ने सभी बच्चों से बिदा लेकर अपने गाँव कि तरफ़ चल दिए इस तरफ़ बहुत देर से बच्चों के गाँव में होने से गाँव वाले परेशान हो गए थे उन्हें लग रहा था कि हो हो ये बच्चे उस जंगल में गए होंगे और वनः पर उन्हें जंगली जानवर या भूत मार डाला होगा जंगल में उन्हें खोजने डर के मारे कोई नही जा रहा था तभी जंगल से वो पंचों बच्चे आते हुए दिखाई दिए गाँव वाले सभी खुश हो गए, पांचो दोस्तों ने जंगल के बारे में और वहाँ के स्कूल के बारे में बताया अगले दिन सभी गाँव वाले उस जंगल में गए उन्होंने वहां पर स्कूल देखा सभी से मिले और बहुँत खुश हुए उन्होंने अपने गाँव के सभी बच्चों को उस स्कूल में भेजने लगे अब उन्हें पता चला कि जंगल के बारे में कितनी झूठी अफवाह फैली हुई थी अब उस गाँव में बड़े लोग उन पांचो दोस्तों कि साहस कि कहानी अपने बच्चों को सुनाने लगे

लेखक: आदित्य कुमार, कक्षा , अपना घर, कानपूर

4 टिप्‍पणियां:

सैयद | Syed ने कहा…

बढ़िया कहानी...

Udan Tashtari ने कहा…

अच्छी कहानी..वरना रहस्य रहस्य ही रह जाता.

बेनामी ने कहा…

Shoddy has, For now, Been a part of our everyday activities. Anything and everything we use today has plastic in them. From food container and trash bags, To the case of our monitors and tvs, Plastic has been a extremely helpful material in our lives.For the mom who loves the vintage look the modern Caryall from Petunia Pickle Bottom's Cake collection is a must have. A blooming tulip design in European cutvelvet is complimented by matching tweed and a coordinated water-repellant lining. This baby bag has six exterior pockets for your cell phone and more, Five indoors pockets for bottles and more, A vital clip, And a zippered changing pad pocket in the foot of the bag.There is a new way to carry poop bags when we pick up dog poop safely and discreetly. A dog poop bags holder has all that you should conveniently carry dog waste bags. This amazing poop pouch also has other advantages, Including a technique for carrying hand sanitizer, Which is necessary to protect out health after handling dog poop.[url=http://www.burberrynj.com/index.php]latest burberry blue label bags[/url] Word of germ sanitation spread all through each side of the Atlantic, And vacuums were suddenly required. Thank goodness, These industrial machines usually include bags which may have large capacities. In fact, The typical advantage of a bagless vacuum is that it is a hassle and fussfree tool and you could be saving for many more bag changes.These toilets also use eco-friendly waste bags; These waste bags have the proportions to convert the waste to a gellike substance while neutralizing the odor. The decaying process also starts through the waste bag. You can toss the bags in the rubbish once it gets filled.When you buy a laptop, Probably it will come with a plain, Drab black shoulder bag for product. Fashion savvy people who use computers know better, Simple fact that. There are a host of aftermarket accessories useful to better protect your investment and appear stylish at the same time.

बेनामी ने कहा…

sac pliage longchamp He was chief scientist on a separate leg of the Tara expedition that went from Panama City, Panama, to Savannah, Ga. cheap ghd straighteners uk