बुधवार, 8 जून 2011

कविता : आसमान क्यों नीला

 आसमान क्यों नीला 

आसमान है क्यों नीला ,
यह बात है किसने जानी....
एक लड़के ने दिमाग में यह बात ठानी ,
याद आ गई अब उसकी नानी ....
तभी दूसरे लड़के ने पूछा क्या बात है ?
इस धरती में बड़े समुंदर सात हैं ....
आसमान है क्यों नीला ,
यह बात है किसने जानी ....

लेखक : चन्दन कुमार 
कक्षा : 6
अपना घर 

6 टिप्‍पणियां:

sandhya ने कहा…

acchi lagi sonch aur us par bani ek kavita

चैतन्य शर्मा ने कहा…

सुंदर ...

vandana ने कहा…

वाह भई नन्हें

अरूण साथी ने कहा…

अति सुन्दर

Shah Nawaz ने कहा…

वाह! अच्छी कोशिश!!!

Udan Tashtari ने कहा…

बहुत बढ़िया...शाबाश!!