सोमवार, 23 सितंबर 2019

कविता : सुहाना मौसम

" सुहाना मौसम "

यह सुहाना सा मौसम,
करता है दिल को रौशन |
ठण्डी हवाओं का झोका,
जो बनाता मन को अनोखा |
खुशबू से भरा आसमां,
जो करते मन को खुशनुमा |
हर पल जब यह बीतता,
कुछ न कुछ उन पलों से सीखता |
यह सुहाना सा मौसम,
करता है दिल को रौशन |

कवि : कुलदीप कुमार , कक्षा : 8th , अपना घर

कवि परिचय : यह कविता कुलदीप के द्वारा लिखी गई है जो की छत्तीसगढ़ के रहने वाले हैं | कुलदीप को कवितायेँ लिखने का बहुत शौक है और अभी तक कुलिप ने बहुत सी कवितायेँ लिख चुके हैं जो की बाहत ही अच्छी हैं | कुलदीप एक नेवी अफसर बनना चाहते हैं | कुलदीप पढ़लिखकर अपने घर वालों की मदद करना चाहता है |

2 टिप्‍पणियां:

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

आपकी इस प्रविष्टि् की चर्चा कल बुधवार (25-09-2019) को    "होगा दूर कलंक"  (चर्चा अंक- 3469)     पर भी होगी। --
सूचना देने का उद्देश्य है कि यदि किसी रचनाकार की प्रविष्टि का लिंक किसी स्थान पर लगाया जाये तो उसकी सूचना देना व्यवस्थापक का नैतिक कर्तव्य होता है। 
 --हार्दिक शुभकामनाओं के साथ।
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'  

Kapil Rawat ने कहा…

Great and very informative post. Thanks for putting in the effort to write it. For readers who are interested in Career information. LifePage is the world’s most evolved Career Platform. You can use LifePage to find your Career Objective. LifePage also offers the most comprehensive Career Planning process. You can use LifePage to explore more than a thousand Career Options. LifePage has the most exhaustive Career List. It is truly Career Counseling 2.0