गुरुवार, 13 मई 2010

कविता -पेड़ लगाओ

पेड़ लगाओ

पेड़ लगाओ पेड़ लगाओ ।
सब बच्चों तुम पेड़ लगाओ ॥
पेड़ लगाकर पानी बरसाओ ।
पेड़ लगाओ पेड़ लगाओ ॥
पेड़ हमें आँक्सीजन गैस देते हैं ।
और कार्बनडाई-आक्साइड लेते हैं ॥
बच्चों तुम सब पेड़ लगाओ ।
पेड़ हमारे लिए हैं उपयोगी ॥
पेड़ लगाओ पेड़ लगाओ ।
बच्चों तुम सब पेड़ लगाओ ॥

लेखक -जमुना कुमार
कक्षा -
अपना घर

5 टिप्‍पणियां:

देव कुमार झा ने कहा…

बहुत अच्छी अपील...

पेड लगाओ, हरियाली फ़ैलाओ...
जंगल बचाओ... पर्यावरण बचाओ...

प्रतुल कहानीवाला ने कहा…

मेरे लिए पेड़ मूक नहीं हैं. मुझे पेड़ों की हर बात अच्छी लगती है. इसलिए मैं पेड़ों की भाषा का व्याकरण गढ़ रहा हूँ. जिस दिन पेड़ों की भाषा को सब समझने लगेंगे तब चारों तरफ हरियाली ही होगी.

Udan Tashtari ने कहा…

शाबास!! जागरुकता लाती कविता. बहुत अच्छी है.

Suman ने कहा…

nice

माधव ने कहा…

पेड़ लगाओ
बाघ बचाओ
धरा को रंगीन बनाओ
ब्लॉगर के मन को भाओ

http://madhavrai.blogspot.com/

पापा का ब्लॉग -qsba.blogspot.com