गुरुवार, 16 सितंबर 2010

कविता महात्मा गांधी

महात्मा गांधी

गांधी जी ने की थी जो लड़ाई,
मारी किसी को गोली दी गाली....
प्रेम और अहिंसा के बल से,
दिला दी उन्हों ने आजादी....
चले गए अंग्रेज छोड़ के ये देश ,
बापू हो गये दुनिया के प्यारे....
बापू ने बोली ग़ली -ग़ली पर एक ही बोली,
हिन्दुस्थान हमारा सबसे न्यारा....



लेख़क लवकुश कक्षा ७ अपना घर कानपुर

4 टिप्‍पणियां:

अशोक बजाज ने कहा…

बहुत बढ़िया पोस्ट बधाई .

रानीविशाल ने कहा…

बहुत अच्छी कविता ....धन्यवाद
नन्ही ब्लॉगर
अनुष्का

माधव ने कहा…

सच कहा

Akshita (Pakhi) ने कहा…

बापू पर प्यारी कविता..बधाई.
____________________
नन्हीं 'पाखी की दुनिया' में भी आयें.