सोमवार, 2 अगस्त 2010

कविता : भारत देश महान

भारत देश महान

अपना भारत देश महान
इस पर मत करो अभिमान
जहाँ पर गंगा है बहती
जहाँ पर गंगा माँ है रहती
हिन्दू हो या मुसलमान
सब करते हैं अच्छा काम
रोशन करते देश का नाम
अपना भारत है मतवाला
हरा-भरा और फल-फूलों वाला
भारत में थे वीर महान
नहीं करते थे वे अभिमान
सबको समझते थे एक समान
अपना भारत देश महान
इस पर मत करो अभिमान

लेखक :मुकेश कुमार , कक्षा :९, अपना घर

3 टिप्‍पणियां:

माधव ने कहा…

सुन्दर

Akshita (Pakhi) ने कहा…

बहुत सुन्दर लिखा...बधाई.

बेनामी ने कहा…

excellent