रविवार, 22 नवंबर 2009

कविता: कद्दू और मिर्च की हुई लडाई

मिर्चा और कद्दू

मिर्चा भइया मिर्चा भइया,
कद्दू बोले राम -राम भइया....
कद्दू बोला मै तुझे खा जाऊंगा,
मिर्चा बोला मै तुझे चबा जाऊंगा....
कद्दू बोला इतना मोटा हूँ,
मिर्च बोला मै बस छोटा हूँ....
मुँह में तेरे घुस जाउँगा,
कड़वाहट फैला आऊँगा....
कद्दू सुनकर जोर से भागा,
मिर्चा भइया सोकर जागा....

लेखक: मुकेश कुमार, कक्षा ८, अपना घर

1 टिप्पणी:

creativekona ने कहा…

्मिर्चा कद्दू की लड़ाई--पहली बार देखी ,लेकिन बहुत अच्छी लगी।
हेमन्त कुमार